Tuesday, May 28, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंड21 फरवरी को सीएम आवास कूच करेगी यूथ कांग्रेस! सातवें दिन भी...

21 फरवरी को सीएम आवास कूच करेगी यूथ कांग्रेस! सातवें दिन भी जारी रहा हल्लाबोल

उत्तराखंड भर्ती घोटाला और बेरोजगारों पर हुए लाठीचार्ज को लेकर कांग्रेस ने सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। आज भी कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने सचिवालय घेराव के लिए कूच किया।लेकिन पुलिस ने इन्हें बीच रास्ते में रोककर हिरासत में ले लिया। इस दौरान कांग्रेस ने हाईकोर्ट ने सीटिंग जज के नेतृत्व में मामले की सीबीआई जांच कराने की मांग की।

कांग्रेस ने बेरोजगारों पर हुए लाठीचार्ज और भर्ती परीक्षा घोटालों की सीबीआई जांच कराने की मांग को लेकर सख्त रुख अख्तियार किया हुआ है। आज आंदोलन के सातवें दिन कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा के नेतृत्व में सचिवालय कूच किया और सरकार के खिलाफ अपना विरोध दर्ज कराया। साथ ही मामले की निष्पक्ष जांच के लिए उच्च न्यायालय के जज के नेतृत्व में सीबीआई जांच कराने की मांग की। वहीं 21 फरवरी को यूथ कांग्रेस मुख्यमंत्री आवास कूच करने जा रही है। उत्तराखंड कांग्रेस के विभिन्न विभागों, प्रकोष्ठों और अनुषांगिक संगठनों ने करन माहरा के नेतृत्व में कांग्रेस प्रदेश मुख्यालय से पैदल मार्च निकालते हुए सचिवालय घेराव करने के लिए कूच किया लेकिन पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को सचिवालय से पहले बैरिकेडिंग लगाकर कांग्रेस कार्यकर्ताओं को रोक दिया। इस दौरान पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच जमकर धक्का-मुक्की हुई।

वहीं कांग्रेस नेताओं को रोके जाने से नाराज प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा, कांग्रेस प्रदेश उपाध्यक्ष सूर्यकांत धस्माना, महिला कांग्रेस की प्रदेश अध्यक्ष ज्योति रौतेला और कांग्रेस नेता वीरेंद्र पोखरियाल बैरिकेडिंग पर चढ़ गए. साथ ही सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन करने लगे। कुछ देर बाद पुलिस ने कांग्रेस जनों को हिरासत में ले लिया और पुलिस लाइन भेज दिया। प्रदर्शन के दौरान कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष करन माहरा ने सरकार को तानाशाह बताते हुए जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा शांति प्रिय तरीके से आंदोलन कर रहे युवा बेरोजगारों पर सरकार ने मुकदमे दर्ज कर उन्हें जेल में डाल दिया था, लेकिन जब अधिवक्ता उन बेरोजगारों की पैरवी कर रहे थे, तब सरकारी वकील कोशिश कर रहे थे कि उन बेरोजगारों के ऊपर धारा 307 लग जाए। यह अपने आप में दर्शाता है कि सरकार अपने दमनकारी रवैया को नहीं छोड़ रही है। माहरा ने कहा युवाओं की सिर्फ इतनी सी मांग है कि भर्तियों में पारदर्शिता बरती जाए। ताकि परीक्षाओं के लिए दिन रात कड़ी मेहनत कर रहे. बेरोजगारों की जगह घूसखोर लोग नौकरी ना हासिल कर लें, आज राज्य लोक सेवा आयोग के गोपन विभाग में तैनात अनुभाग अधिकारी संजीव चतुर्वेदी गिरफ्तार हो चुका है, उसके बावजूद सरकार हठधर्मिता अपनाए हुए पीसीएस मेंस का एग्जाम कराने की जल्दबाजी कर रही है. इन्हीं सब मुद्दों को लेकर कांग्रेस सड़कों पर उतर कर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन कर रही है। 21 फरवरी को सीएम आवास का कूच: वहीं सरकार की दमनकारी नीतियों के खिलाफ युवा कांग्रेस आगामी 21 फरवरी को मुख्यमंत्री आवास कूच करने जा रही है। यह प्रदर्शन यूथ कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष बीवी श्रीनिवास के नेतृत्व में किया जाएगा.इस बात की जानकारी देते हुए भारतीय युवा कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष विनीत प्रसाद भट्ट और मोहन भंडारी का कहना है कि प्रदेश में जिस प्रकार से युवा बेरोजगार सड़कों पर उतरकर आंदोलनरत हैं उनके समर्थन में युवा कांग्रेस कंधे से कंधा मिलाकर खड़ी है। मोहन भंडारी का कहना है कि दमनकारी सरकार ने लाठीचार्ज और मुकदमों के बल पर जिस प्रकार से आंदोलन को कुचलने का प्रयास किया, उसका यूथ कांग्रेस लगातार विरोध कर रही है। इसके खिलाफ यूथ कांग्रेस ने मुख्यमंत्री आवास कूच किए जाने का फैसला लिया है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें