Thursday, April 18, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में राजस्थान के युवक ने फर्जी डिग्री से पाई...

ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में राजस्थान के युवक ने फर्जी डिग्री से पाई नौकरी! जांच के बाद मुकदमा दर्ज

उत्तराखंड में फर्जी शिक्षकों का मामला अभी ठंडा भी नहीं हुआ था कि देहरादून से फर्जी अकाउंट अफिसर का मामला सामने आ गया। ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी में राजस्थान के एक युवक ने फर्जी डिग्री से अकाउंट ऑफिसर की नौकरी पा ली। जांच के बाद इस युवक के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर दिया गया है।

देहरादून के थाना क्लेमेंटाउन स्थित ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी में अकाउंट ऑफिसर के पद पर फर्जी डिग्री से नौकरी पाने वाले आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। आरोपी के खिलाफ पिछले कुछ समय से विश्वविद्यालय स्तर पर आंतरिक जांच चल रही थी. जांच में ही फर्जीवाड़ा सामने आया है। ग्राफिक एरा हिल यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार अरविंद धर ने शिकायत दर्ज कराई थी कि साल 2018 में यूनिवर्सिटी ने अकाउंट ऑफिसर के पद पर नियुक्ति के लिए विज्ञप्ति जारी की थी। इस पद के लिए पोद्दार रोड झुंझुनू राजस्थान निवासी शुभम पोद्दार ने भी आवेदन किया था. आवेदन पत्र में उसने अपनी शैक्षिक योग्यता स्नातक बताई थी। शुभम ने हाईस्कूल और इंटरमीडिएट सीबीएसई से साल 2007 और साल 2009 में प्रथम श्रेणी में उत्तीर्ण करना बताया था। स्नातक इग्नू (इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी) से साल 2012 में पास आउट करना बताया था। शुभम ने आवेदन के साथ कई अनुभव संबंधी दस्तावेज भी जमा किए थे। लेकिन शिकायत मिलने पर शुभम के खिलाफ कुछ समय से विश्वविद्यालय स्तर पर आंतरिक जांच भी चल रही थी। जांच में पता चला कि उसने साल 2012 में स्नातक किया ही नहीं था और इग्नू का जो अंक पत्र जमा किया है वह फर्जी है। थाना क्लेमेंटाउन प्रभारी शिशुपाल राणा ने बताया है कि ग्राफिक एरा यूनिवर्सिटी के रजिस्ट्रार की शिकायत के आधार पर आरोपी शुभम पोद्दार के खिलाफ धोखाधड़ी का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें