Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडशादी का झांसा देकर दिव्यांग युवती का शारीरिक शोषण! पीड़िता ने ग्राम...

शादी का झांसा देकर दिव्यांग युवती का शारीरिक शोषण! पीड़िता ने ग्राम प्रधान पर लगाया आरोप

हरिद्वार जनपद के लक्सर क्षेत्र की एक युवती ने डूंगरपुर ग्राम प्रधान पर शादी का झांसा देकर दो सालों तक शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है। वहीं मामले में शिकायत करने के बावजूद पुलिस पर आरोपी के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं करने का आरोप लगाया है। मामले में पीड़िता ने एसएसपी से मदद की गुहार लगाई है।

जानकारी के अनुसार कनखल थाना क्षेत्र की एक दिव्यांग युवती ने लक्सर क्षेत्र के डूंगरपुर ग्राम प्रधान अरुण पर गंभीर आरोप लगाए हैं। पीड़िता का आरोप है कि आरोपी ग्राम प्रधान ने पहले शादी का झांसा देकर दो साल तक उसका शारीरिक शोषण किया और प्रधान बनते ही उसने शादी करने से इनकार कर दिया। मामले में पीड़िता ने एसएसपी हरिद्वार से इंसाफ की गुहार लगाई है। कनखल थाना क्षेत्र की रहने वाली पीड़िता ने बताया कि दो साल पहले उसकी लक्सर थाना क्षेत्र के ग्राम डूंगरपुर के रहने वाले अरुण के साथ फोन पर बातचीत शुरू हुई थी। बातचीत धीरे-धीरे प्यार में बदल गई. इस बीच अरुण ने पीड़िता को विश्वास दिलाया कि वह उससे शादी करेगा, जिसके बाद दोनों के बीच नजदीकियां बढ़ गई। मिलने का सिलसिला भी शुरू हो गया। युवती ने आरोप लगाया कि इस दौरान अरुण ने कई बार उसके साथ शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाए। वहीं युवती को विश्वास दिलाने के लिए आरोपी ने अपनी मौसी और परिवार के लोगों से भी कई बार उसकी बात कराई। ताकि उसे विश्वास हो सके कि उसके घर वालों को उनके संबंधों का पता है। लेकिन हाल ही में ग्राम प्रधान का चुनाव जीतने के बाद उसने शादी से इनकार कर दिया। वहीं जब युवती ने आरोपी अरुण पर शादी करने का दबाव बनाया तो, 22 नवंबर की रात वह अपने कुछ साथियों के साथ उसके घर पर आया और गाली-गलौज करते हुए जमकर हंगामा किया। जिसके बाद पीड़िता ने कनखल थाना पुलिस से शिकायत की लेकिन जैसे ही पुलिस को पता चला कि वह ग्राम प्रधान है तो उसके खिलाफ मुकदमा दर्ज करने के बजाय पुलिस ने उसे थाने बुलाकर मामला निपटाना चाहा। थाने में आरोपी ने शादी करने की बात पर सहमति जता दी लेकिन बाद में दोबारा शादी करने से इनकार कर दिया। पीड़िता का आरोप है कि इस दौरान आरोपी ने उसके जीजा से भी संपर्क किया और उसे पैसों का लालच देकर अपने पक्ष में कर लिया। जिसके बाद जीजा ने उसे धमकी दी कि अगर तूने शादी का दबाव बनाया तो मैं तेरी बहन को तलाक दे दूंगा या फिर फांसी लगा लूंगा, उसका जिम्मेदार तुझे ठहरा दूंगा। जिसके बाद मेरे पर दबाव बनाकर कोरे कागजों पर साइन करवाए गए। लेकिन इसके बाद मैंने दोबारा ठान लिया कि मैं आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज करा कर ही रहूंगी। पीड़िता का कहा आरोपियों ने उसे बताया कि अब उसका जीजा भी उसका साथ नहीं देगा। क्योंकि उनसे पैसे ले लिए हैं। पुलिस ने भी मुझे इंसाफ नहीं दिलाया। अरुण अभी कुछ समय पहले ही डूंगरपुर का ग्राम प्रधान बना है। आरोपी के ऊपर लक्सर क्षेत्र के एक बड़े नेता का हाथ है और उसके संबंध ऊपर तक हैं. इसी वजह से पुलिस भी कोई कार्रवाई नहीं कर रही है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें