Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeअन्यउत्तराखण्डः हल्द्वानी में जुटे सहकारिता विभाग के अधिकारी-कर्मचारी! तीन दिन तक लेंगे...

उत्तराखण्डः हल्द्वानी में जुटे सहकारिता विभाग के अधिकारी-कर्मचारी! तीन दिन तक लेंगे प्रशिक्षण, प्रबंन्ध निदेशक बोले- प्रदेशभर में जल्द खुलेंगे जूनियर कोआपरेटिव ट्रेनिंग सेंटर

हल्द्वानी। उत्तराखण्ड सहकारिता विभाग कुमाऊं मण्डल के कार्मिको व अधिकारियों के तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का प्रसार प्रशिक्षण केन्द्र गौलापार में प्रबंन्ध निदेशक उत्तराखंड प्रादेशिक कोआपरेटिव यूनियन देहरादून मान सिंह सैनी द्वारा शुभारम्भ किया गया। उत्तराखण्ड प्रादेशिक को-ऑपरेटिव यूनियन देहरादून द्वारा संचालित तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम मे कुमाऊं मण्डल सहकारिता विभाग के कार्मिको व अधिकारियों के द्वारा प्रतिभाग किया गया। तीन दिवसीय प्रशिक्षण कार्यक्रम मे उत्तराखण्ड की सहकारिता को और मजबूत बनाने तथा वर्तमान परिदृश्य मे सहकारिता को घर-घर पहुंचाने हेतु नेशनल को-आपरेटिव यूनियन ऑफ़ इंडिया (एनसीयूआई) नई दिल्ली से सहकारिता के विख्यात विद्वानों की टीम को प्रथम बार उत्तराखण्ड मे सहकारिता के कार्मिकों व अधिकारीयों को प्रशिक्षण प्रदान करने हेतु आमंत्रित किया गया।
प्रबंन्ध निदेशक उत्तराखंड प्रादेशिक कोआपरेटिव यूनियन देहरादून मान सिंह सैनी ने प्रशिक्षण शिविर में प्रशिक्षण कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये कहा कि सहकारिता मंत्री उत्तराखण्ड सरकार डॉ. धन सिंह रावत के मार्गदर्शन में हर घर सहकारिता तथा सहकारिता प्रशिक्षण को जन-जन तक पहुंचाने के निर्देशों से नव युग सहकारिता मे क्रांतिकारी परिवर्तन देखने को मिल रहे है। सहकारिता से जुड़े अधिकारियों, कार्मिकों समितियों, सहकार बंधुवों, किसानों को सहकारिता के उचित प्रशिक्षण हेतु सहकारिता विभाग के द्वारा वर्तमान मे कई योजनाओं को प्रतिपादित व संचालित किया जा रहा है। प्रबंन्ध निदेशक सैनी ने बताया की सहकारिता मंत्री के निर्देशानुसार प्रदेश भर मे जल्द ही जूनियर कोआपरेटिव ट्रेनिंग सेंटर (जेसीटीसी) स्थापित किये जायेंगे जिससे की दूरस्थ स्थानों मे रहने वाले सहकारिता से जुड़े किसानों व समितियों को भी सहकारिता प्रशिक्षण का लाभ उनके निकटतम स्थानों मे ही प्राप्त हो सके, इसके अलावा सहकारिता विभाग द्वारा प्रदेश के प्रत्येक जिले से आर्थिक रूप से कमजोर किसानों के होनहार बच्चों को प्रतियोगी परीक्षाओं हेतु देश भर के उच्च संस्थानों से प्रशिक्षण तथा प्रदेश के मेहनतकश किसानों को देश के मॉडल कृषि प्रधान राज्यों मे भ्रमण भी प्रदान कराया जायेगा। श्री सैनी ने कहा कि सहकारिता सचिव डा. बीवी आरसी पुरुषोत्तम का विशेष धन्यवाद देते हुये कहा की प्रत्येक सप्ताह यूनियन की समीक्षा बैठक सचिव सहकारिता के द्वारा लिये जाने के फलस्वरुप आज पीसीयू प्रशिक्षण व प्रसार प्रचार के क्षेत्र मे निरंतर आगे बढ़ रहा है तथा निबंधक सहकारिता अलोक कुमार पाण्डेय का भी धन्यवाद करते हुये सहकारिता क्रांति को प्रशिक्षण के माध्यम से आगे बढ़ाने की बात कही गयी। प्रशिक्षण शिविर कार्यक्रम मे प्रबंधक पीसीयू दीपक मेहता, प्रबंधक पीसीयू कुमाऊं मण्डल धीरज सैनी समेत सहकारिता विभाग के सहायक विकास अधिकारी, अपर जिला सहकारी अधिकारी, समिति सचिव एवं आंकिकों ने प्रतिभाग किया।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें