Friday, March 1, 2024
No menu items!
spot_imgspot_imgspot_imgspot_img
Homeअंतर्राष्ट्रीयमंकीपॉक्स का खतरा बढ़ा, कांगो में 9 संक्रमितों ने दम तोड़ा, नाइजीरिया...

मंकीपॉक्स का खतरा बढ़ा, कांगो में 9 संक्रमितों ने दम तोड़ा, नाइजीरिया में दर्ज हुई साल की पहली मौत

कांगो। दुनियाभर के कई देशों में मंकीपॉक्स का खतरा बढ़ रहा है। कांगो में मंकीपॉक्स से नौ लोगों की मौत इस साल हो चुकी है। वहीं नाइजीरिया ने मंकीपॉक्स से इस साल में पहली मौत दर्ज की गई है। कांगो में संकुरु हेल्थ डिविजनप्रमुख डॉ. ऐमे अलोंगो ने कहा देश में मंकीपॉक्स के 465 मामलों की पुष्टि हुई है। पश्चिम और मध्य अफ्रीका में यह सबसे ज्यादा प्रभावित है।

नाइजीरिया के रोग नियंत्रण सेंटर की ओर से कहा गया है कि 2022 में मंकीपॉक्स के 66 संदिग्ध मामलों आए, जिसमें से 21 में बीमारी की पुष्टि हुई। वहीं एक 40 वर्षीय मरीज की मौत हुई है, जो इस साल मंकीपॉक्स से मौत का पहला मामला है। सितंबर 2017 से नाइजीरिया में मंकीपॉक्स का प्रकोप नहीं हुआ है, लेकिन यहां इसके मामले लगातार आते रहे हैं।
मंकीपॉक्स अब तक कुल 23 देश इसकी चपेट में आ गए हैं। वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (डब्ल्यूएचओ) ने बताया है कि मंकीपॉक्स के अब तक कुल 257 मामले सामने आए हैं। चिंता की बात यह है कि यह अधिकतर उन देशों में फैल रहा है, जहां यह बीमारी आमतौर पर नहीं पाई जाती है। डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि मंकीपॉक्स बच्चों और गंभीर बीमारी के उच्च जोखिम वाले लोगों में ज्यादा फैल रहा है। बता दें कि मंकीपॉक्स चेचक की तरह होने वाला एक वायरल संक्रमण है। यह पहली बार 1958 में अनुसंधान के लिए रखे गए बंदरों में खोजा गया था और 1970 में मंकीपॉक्स का पहला मानव मामला सामने आया था। यह रोग मुख्य रूप से मध्य और पश्चिम अफ्रीका में होता है। यह वायरस पॉक्सविरिडे परिवार से संबंधित है, जिसमें चेचक रोग पैदा करने वाले वायरस भी आते हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें