Monday, April 15, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडपेपर लीक मामले में तीन और के खिलाफ गैंगस्टर की तैयारी

पेपर लीक मामले में तीन और के खिलाफ गैंगस्टर की तैयारी

तीन और सदस्य के खिलाफ उत्तराखंड अधीनस्थ सेवा चयन आयोग पेपर लीक गिरोह से जुड़े होने पर एसटीएफ ने गैंगस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर शिकंजा कसने की कार्रवाई की है,  एसटीएफ ने तीनों अभियुक्तों के खिलाफ जिलाधिकारी को गैंग रिपोर्ट पेश की है. जिसके बाद डीएम ने तीन अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट लगाने का अनुमोदन कर दिया है।

यूकेएसएसएससी पेपर लीक मामले में अब मुख्य 24 अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट के तहत कानूनी शिकंजा कसता जा रहा है. पहले पेपर लीक में मुख्य 21 अभियुक्तों पर गैंगस्टर एक्ट लगाई गई थी. अब 3 और अभियुक्तों पर गैंगस्टर एक्ट लगाई गई है. सभी अभियुक्त वर्तमान में देहरादून के सुद्धोवाला जेल में बंद हैं. यूकेएसएसएससी पेपर लीक  मामले में गिरोह के तीन और सदस्यों पर गैंगस्टर एक्ट लगाया गया है. जिन तीन अभियुक्तों पर गैंगस्टर एक्ट लगा है, उसमें पहला आरोपी गौरव नेगी पुत्र गोपाल सिंह, निवासी नजीबाबाद, पोस्ट सूर्यनगर, थाना किच्छा, उधम सिंह नगर, दूसरा आरोपी विपिन बिहारी पुत्र राम शंकर, निवासी ग्राम न्यामपुर, थाना तालगांव, जिला सीतापुर, उत्तर प्रदेश और तीसरा आरोपी संजीव कुमार चौहान पुत्र हर्षरूप, निवासी एल 05-304, गुलमोहर गार्डन, गाजियाबाद, उत्तर प्रदेश का नाम शामिल है. एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल के मुताबिक पेपर लीक मामले A STF ने संशोधित गैंग चार्ट बनाकर जिलाधिकारी देहरादून को भेजा था. जिसे जिलाधिकारी ने अनुमोदित कर दिया है. ऐसे में अब पेपर लीक मामले में 24 अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट का मामला न्यायालय में चलेगा.
एसटीएफ SSP के अनुसार UKSSSC पेपर लीक केस में पूर्व में 21 अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई की जा रही थी, लेकिन अब 24 अभियुक्तों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी.  एसटीएफ SSP के अनुसार UKSSSC पेपर लीक केस में पूर्व में 21 अभियुक्तों के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट में कार्रवाई की जा रही थी, लेकिन अब 24 अभियुक्तों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी. इस प्रकार से अन्य अभियुक्तों के साथ ही अब इन तीनों अभियुक्तों की चल-अचल संपत्ति को भी गैंगस्टर एक्ट 14 (1) के अंतर्गत सीज करने की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी. वर्तमान में पेपर लीक मामले के चर्चित आरोपी हाकम सिंह की 6 करोड़ की अवैध रुप से अर्जित संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई चल रही है. अन्य अभियुक्तों की संपत्ति जब्त करने की कार्रवाई फिलहाल लंबित है. जिस पर तेजी औपचारिकताएं वाली कार्रवाई चल रही है.
UKSSSC स्नातक स्तरीय परीक्षा 2021 के तहत सचिवालय रक्षक भर्ती परीक्षा, वन दरोगा ऑनलाइन भर्ती परीक्षा और ग्राम पंचायत विकास अधिकारी चयन परीक्षा 2016 में हुई धांधली को लेकर दर्ज 4 अलग-अलग मुकदमों की विवेचना एसटीएफ द्वारा की जा रही है. ऐसे में अब तक सभी मुकदमों में एसटीएफ द्वारा कुल 54 अभियुक्तों की गिरफ्तारी की जा चुकी है.

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें