Thursday, April 18, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडमहिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के नाम पर बदमाशों ने की आठ लाख...

महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के नाम पर बदमाशों ने की आठ लाख की ठगी

रानीखेत। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने और सदस्यता दिलाने के नाम पर नैनीताल के एक एनजीओ के दो सचांलकों ने महिलाओं को झांसा देकर उनसे आठ लाख की ठगी की है। ठगी का शिकार हुई महिलाओं ने आरोपियों के खिलाफ धोखाधड़ी व झांसा देने का आरोप लगाया है। इसी सिलसिले में उन्होंने संयुक्त मजिस्ट्रेट को शिकायती पत्र देकर उच्च स्तरीय जांच व रकम हड़पने के आरोपितों के विरुद्ध कानूनी कार्रवाई पर जोर दिया।

अध्यक्ष कल्याणी जनकल्याण समिति, महिला काउंसलर एवं पूर्व प्रदेश पार्षद (भाजपा) माया बिष्टï की अगुआई में कोठिया गांव की महिलाएं संयुक्त मजिस्ट्रेट जयकिशन से मिलीं। उन्होंने बताया कि बीते वर्ष दो अप्रैल को अजय आनंद जोशी उर्फ अजय बल्लभ व मंजू उर्फ नीतू उनके गांव पहुंची थी। उन्होंने महिलाओं के साथ बैठक की और बताया कि वह उत्तराखंड मानव सेवा समिति फर्शीली(नैनीताल) के नाम से एनजीओ चलाते हैं। भवाली में कार्यालय है। महिलाओं के अनुसार दोनों ने समिति का पंजीकरण व अन्य कागजात दिखा बताया कि उनकी एनजीओ कृषि, बागवानी के साथ पानी के टैंक, पालीहाउस आदि की मरम्मत कार्य कराती है। महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए सिलाई, कढ़ाई, बुनाई, पेंटिंग, ब्यूटीशियन, दुग्ध व मौन उत्पादन आदि के प्रशिक्षण का हवाला दे उन्हें झांसे में ले लिया।

साथ ही एनजीओ से जोड़ने के नाम पर 565 रुपये प्रति महिला शुल्क जमा कराया। विश्वास दिलाया हर माह उन्हें सौ रुपये लौटाये जाएंगे। शुरू में आठ महिलाएं सदस्य बनाई गईं। जिन्हें गांव-गांव जाकर नए सदस्य बनाने का जिम्मा दिया गया। बाद में समीपवर्ती करीब 25 गांवों से नए सदस्य जोड़े गए। सदस्यता शुल्क के तौर पर आठ लाख रुपये जमा कर एनजीओ संचालकों के सुपुर्द किए गए। वरिष्ठ भाजपा नेत्री माया ने कहा कि तब से अजय आनंद जोशी व नीतू गांव लौटकर नहीं आए, न ही रुपये वापस लौटाए गए। उन्होंने एनजीओ संचालकों की गिरफ्तारी पर भी जार दिया।

महिलाओं ने संयुक्त मजिस्ट्रेट को शिकायती पत्र देकर बताया कि एनजीओ संचालकों ने अपने मोबाइल भी बंद कर दिए हैं। इधर आरोपितों का पक्ष जानने को संपर्क साधा गया लेकिन मोबाइल स्विचआफ का संदेश दे रहे थे। संयुक्त मजिस्ट्रेट ने जांच कर ठोस कार्रवाई का आश्वासन दिया। शिकायती पत्र देने वालों में तनुजा राणा, माया टनवाल, सरस्वती देवी, भगवती देवी, देवकी देवी, चंपा देवी, प्रेमा देवी, अनीता देवी, कौशल्या देवी, पना देवी, नंदी देवी आदि शामिल रहीं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें