Tuesday, May 28, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडअतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन का अभियान जारी! रामनगर में अतिक्रमणकारियों की अधिकारियों...

अतिक्रमण के खिलाफ प्रशासन का अभियान जारी! रामनगर में अतिक्रमणकारियों की अधिकारियों से हुई नोकझोंक

उत्तराखंड की धामी सरकार साफ कर चुकी है कि किसी भी कीमत पर सरकारी भूमि के ऊपर अतिक्रमण नहीं होने दिया जाएगा। जहां भी सरकारी जमीनों पर अतिक्रमण हो रखा है वहां प्रशासन को कार्रवाई करने के निर्देश दिए गए हैं। इन्हीं निर्देशों का पालन करते हुए हल्द्वानी और रामनगर में प्रशासन की टीम ने बाजार और ग्रामीण क्षेत्र में सरकारी जमीनों पर हुए अतिक्रमण को ध्वस्त किया।

नैनीताल जिले में इन दिनों प्रशासन ने अतिक्रमण के खिलाफ अभियान छेड़ रखा है। हल्द्वानी और रामनगर में लगातार अभियान चलाया जा रहा है। एक तरफ जहां आज 23 मई को हल्द्वानी नगर निगम क्षेत्र में नगर आयुक्त और सिटी मजिस्ट्रेट के नेतृत्व में नाली के ऊपर बने अतिक्रमण को भी नगर निगम की टीम ने जेसीबी लगाकर उखाड़ दिया। वहीं रामनगर में सिंचाई विभाग की जमीन पर कुछ लोगों ने अतिक्रमण किया था जिसे हटवाने के लिए जब सिंचाई विभाग की टीम मौके पर पहुंची तो अतिक्रमणकारियों ने उनके साथ बदतमीजी की। इस मामले में सिंचाई विभाग के अधिकारी ने पुलिस तहरीर दी है।हल्द्वानी नगर आयुक्त पंकज उपाध्याय ने अतिक्रमणकारियों को चेतावनी दी है कि अतिक्रमण किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि शहर में नाली के ऊपर अतिक्रमण होने से जलभराव की समस्या पैदा होती है। लिहाजा अब अतिक्रमण को लेकर आगे मॉनिटरिंग होती रहेगी। भविष्य में यदि व्यापारियों ने अतिक्रमण करने का प्रयास किया तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी। वहीं सिटी मजिस्ट्रेट हल्द्वानी ऋचा सिंह ने कहा कि दुकानों के आगे फल और ठेले वाले अवैध तरीके से कब्जा जमाए हुए थे जिन्हें हटवाया गया है। कुछ लोगों के सामान भी जब्त किए गए हैं.

ढिकुली क्षेत्र में प्रशासन और पुलिस के साथ ही सिंचाई विभाग की संयुक्त टीम ने नहरों पर अतिक्रमण हटाने को लेकर दूसरे दिन मंगलवार 23 मई को भी अपनी कार्रवाई जारी रखी। दूसरे दिन टीम इस क्षेत्र में एक रिजॉर्ट पर कार्रवाई करने पहुंची थी। तभी रिजॉर्ट संचालक और टीम के बीच तीखी नोकझोंक हो गई थी। सिंचाई विभाग के अधिशासी अभियंता तरुण कुमार बंसल ने बताया कि विभाग ने क्षेत्र में 55 अतिक्रमण चिन्हित किए गए थे जिन्हें ध्वस्त किया जा रहा है. कुछ अतिक्रमणकारियों से नोकझोंक भी हुई है। इस मामले में एक रिजॉर्ट संचालक के खिलाफ कोतवाली पुलिस को तहरीर भी दी गई है। पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है। वहीं विभाग ने सभी लोगों से सरकारी जमीन पर अतिक्रमण न करने की अपील करते हुए सहयोग देने की बात कही है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें