Wednesday, April 17, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउधम सिंह नगरयुवाओं पर लाठीचार्ज को लेकर पूरे प्रदेश में उबाल! पुलिस को छूटे...

युवाओं पर लाठीचार्ज को लेकर पूरे प्रदेश में उबाल! पुलिस को छूटे पसीने, आर्य की सीबीआई जांच की मांग

देहरादून में प्रदर्शन कर रहे युवाओं पर लाठीचार्ज को लेकर पूरे प्रदेश में उबाल है। नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने लाठीचार्ज की कड़े शब्दों में निंदा की है। साथ ही मामले में कार्रवाई की मांग की है। वहीं लाठीचार्ज के विरोध में प्रदेश में जगह-जगह कांग्रेस वर्कर्स प्रदर्शन कर रहे हैं। देहरादून में आज प्रदर्शनकारी युवा शहीद स्मारक पर इकट्ठा हुए हैं। पुलिस ने प्रदर्शनकारी युवाओं की वहीं पर घेराबंदी की है प्रदर्शनकारी भी वहां से हटने को तैयार नहीं हैं।

राजधानी देहरादून में पुलिस द्वारा युवाओं पर किए गए लाठीचार्ज को लेकर कांग्रेस पूरे प्रदेश में विरोध जता रही है। साथ ही विरोध जताने के लिए प्रदेश बंद का आह्वान किया गया। वहीं देहरादून में युवाओं ने शुक्रवार को भी अपना आंदोलन जारी रखा। इस दौरान युवा शहीद स्मारक पर बड़ी संख्या में इकट्ठे हुए। हालांकि पुलिस ने युवाओं को शहीद स्मारक जाने से रोका। लेकिन पुलिस को भनक लगती इससे पहले ही युवा बड़ी संख्या में शहीद स्मारक के अंदर पहुंच कर धरना देने लगे। इस दौरान यहां पहले से मौजूद राज्य आंदोलनकारियों और पुलिस में भी तीखी नोकझोंक हुई। वहीं नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने लाठीचार्ज करने वाले दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने के साथ ही सीबीआई जांच की मांग की है।

उत्तराखंड में युवाओं का विरोध शुक्रवार को भी जारी रहा। हालांकि बेरोजगार संघ का बंद का आह्वान बाजार में असफल दिखाई दिया। लेकिन युवाओं ने अपनी रणनीति बदल कर गांधी पार्क में शहीद स्मारक को चुना, जहां सैकड़ों की संख्या में युवा एकत्रित हो गए। खास बात यह है कि शहीद स्मारक पर पहले से ही मौजूद राज्य आंदोलनकारियों ने भी युवाओं का समर्थन किया। हालांकि पुलिस शहीद स्मारक को खाली कराने की कोशिश करती रही। जिसके चलते पुलिस और राज्य आंदोलनकारियों के बीच तीखी नोकझोंक भी हुई। फिलहाल शहीद स्मारक पर बड़ी संख्या में पीएसी और पुलिस बल तैनात है। उधर युवा भी स्मारक पर बैठकर अपने विरोध को आगे बढ़ा रहे हैं। एसएसपी देहरादून सहित डीएम और एसपी सिटी भी मौके पर मौजूद रहे। पुलिस राज्य आंदोलनकारियों के अलावा बाकी किसी को भी शहीद स्मारक पर धरना देने की इजाजत नहीं दे रही है और इस प्रांगण को खाली कराने की कोशिश में लगी हुई है। हालांकि राज्य आंदोलनकारियों के विरोध के चलते पुलिस अब तक इस प्रांगण को खाली नहीं करवा पाई है।

देहरादून में बेरोजगार युवाओं पर हुए लाठीचार्ज को लेकर अब विपक्ष भी सरकार पर हमलावर हो गया है। हल्द्वानी में नेता प्रतिपक्ष यशपाल आर्य ने लाठीचार्ज करने वाले दोषी पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई करने के साथ ही सीबीआई जांच की मांग की है। यशपाल आर्य ने कहा कि युवाओं पर हमले को लेकर विपक्ष सदन से लेकर सड़क तक आंदोलन करेगा और युवाओं के साथ खड़ा है। उन्होंने कहा कि जिस तरह से देहरादून में युवाओं पर बर्बरता हुई है वह निंदनीय है। यशाल आर्य ने आगे कहा कि पूरे भर्ती घोटाले को लेकर विपक्ष लगातार सीबीआई जांच की मांग कर रहा है। लेकिन सरकार आज तक सीबीआई जांच के लिए पहल नहीं कर पाई। जिसका नतीजा है कि आज भर्ती घोटाले के जो भी दोषी हैं, वह आज जेल से बाहर आ रहे हैं। देहरादून में युवाओं पर हुई लाठीचार्ज की घटना को उन्होंने शर्मनाक, दुर्भाग्यपूर्ण और निंदनीय बताते हुए कहा कि युवाओं की मांग जायज है और युवाओं के साथ कांग्रेस खड़ी है। युवाओं भर्ती घोटाले को लेकर लगातार सरकार पर दबाव बनाकर सीबीआई जांच की मांग कर रहे हैं। लेकिन सरकार आंख बंद की हुई है, जिसका नतीजा है कि आज युवा सड़कों पर है। सरकार जल्दीबाजी में कोई भी निर्णय ले रही है। सरकार कुछ लोगों को फायदा पहुंचाने का काम कर रही है जिसके चलते जल्दबाजी में निर्णय लेकर युवाओं को धोखा देने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इस पूरे मामले को लेकर विपक्ष सड़क से लेकर सदन तक आंदोलन करेगा। उन्होंने कहा कि युवाओं पर हुए लाठीचार्ज के मुख्यमंत्री ने जो न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं वह पूरी तरह से छलावा है। उन्होंने कहा कि उन्होंने कई न्यायिक जांच देखे हैं। लेकिन कोई हल नहीं निकलता है और न्यायिक जांच के आदेश केवल मामले को रफा-दफा करने के लिए किया गया है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें