Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeअपराधअंकिता हत्याकांड मामले में नार्को टेस्ट के लिए आरोपियों ने मांगे 10...

अंकिता हत्याकांड मामले में नार्को टेस्ट के लिए आरोपियों ने मांगे 10 दिन, अलग-अलग हिस्सों में दाखिल होगी चार्जशीट

अंकिता भंडारी हत्याकांड में आरोपियों के नार्को टेस्ट को लेकर एसआईटी को अभी और इंतजार करना होगा। आरोपियों ने पौड़ी जेलर के माध्यम से नार्को टेस्ट के लिए कोटद्वार कोर्ट से 10 दिन का समय मांगा है। ऐसे में अब अभियुक्तों की सहमति के बाद ही एसआईटी उनका नार्को टेस्ट करा पाएगी। आपको बता दें कि एसआईटी ने आरोपियों के नार्को टेस्ट कराने के लिए बीते शुक्रवार कोटद्वार कोर्ट में अर्जी दी थी जिसकी सुनवाई आज सोमवार 12 दिसम्बर को थी।

वहीं अंकिता हत्याकांड में एसआईटी अब अलग-अलग पार्ट में चार्जशीट कोर्ट में दाखिल करेगी। एडीजी लॉ एंड ऑर्डर वी मुरुगेशन के मुताबिक संभव है कि 15-16 दिसंबर तक इस केस में अभी तक के महत्वपूर्ण सबूतों और बयानों सहित अन्य ठोस तथ्यों के आधार पर चार्जशीट दाखिल की जाएगी। लेकिन इसके बावजूद मामले की जांच जारी रहेगी। साइंटिफिक रिपोर्ट और नार्को टेस्ट के बाद वीआईपी का खुलासा और अन्य महत्वपूर्ण जानकारियों को कंपाइल कर बाद में एक और सप्लीमेंट्री चार्जशीट दाखिल की जाएगी। इस मामले में वी मुरुगेश ने बताया कि किसी भी केस में 90 दिनों के अंदर चार्जशीट दाखिल करने की प्रक्रिया के तहत इस केस में भी समय रहते अगले 3 से 4 दिनों में चार्जशीट दाखिल की जाएगी, लेकिन सीआरपीसी की धारा 178 के तहत इस केस की इन्वेस्टिगेशन जारी रहेगी। अभी FSL रिपोर्ट और नार्को टेस्ट से जानकारियां उपलब्ध कराना बाकी है. ऐसे में उन सभी को कंपाइल और मिलान करने के बाद फिर से एक सप्लीमेंट्री चार्जशीट भी कोर्ट में दाखिल की जाएगी. सीआरपीसी 178 के अंतर्गत आगे की जांच अभी जारी रहेगी।

आपको यद् दिला दे 19 साल की अंकिता भंडारी पौड़ी जिले के यमकेश्वर ब्लॉक में स्थिति वनंत्रा रिजॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी आरोप है कि वनंत्रा रिसॉर्ट के मालिक पुलकित आर्य ने अंकिता भंडारी पर गलत काम करने का दबाव बनाया था जिसके लिए अंकिता भंडारी ने मना कर दिया था। साथ ही नौकरी छोड़ने का मन बना लिया था। पुलकित आर्य को डर था कि नौकरी छोड़ने के बाद अंकिता उसके राज का पर्दाफाश कर देगी। आरोप है कि इसी डर से पुलकित ने अपने दो मैनेजरों सौरभ भास्कर और अंकित गुप्ता के साथ मिलकर 18 सितंबर को अंकिता भंडारी चीला नहर में धक्का देकर मार दिया था अंकिता का शव पुलिस ने 24 सितंबर को बरामद किया था अभी तीनों आरोपी जेल में बंद हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें