Thursday, April 18, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडउत्‍तराखंड में आने वाले दो दिनों में कहर बरसा सकती है बारिश!...

उत्‍तराखंड में आने वाले दो दिनों में कहर बरसा सकती है बारिश! आठ जिलों के लिए अलर्ट

आने वाले दो दिनों में बादल उत्‍तराखंड में कहर बरपा सकते हैं। इसके लिए भारत मौसम विज्ञान विभाग देहरादून द्वारा अलर्ट जारी किया गया है। वहीं आपदा प्रबंधन सचिव डॉ रंजीत कुमार सिन्हा के निर्देश पर गढ़वाल और कुमाऊं के आठ जिलों के अधिकारियों के लिए विशेष सावधानियां सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किये गए हैं। वहीं मुख्‍यमंत्री पुष्‍कर सिंह धामी भी राज्‍य के हालातों पर नजर बनाए हुए हैं।

मौसम विभाग देहरादून द्वारा आज नौ जुलाई को उत्तरकाशी, टिहरी एवं देहरादून जनपद में भारी से अत्यन्त भारी बारिश की संभावना जताई गई है। वहीं आगामी 11 जुलाई से 12 जुलाई तक राज्य के आठ जिलों में बहुत भारी से अत्यन्त भारी वर्षा के साथ-साथ कहीं-कहीं गर्जन के साथ आकाशीय बिजली चमकने / वर्षा के अत्यन्त तीव्र दौर होने की संभावना व्यक्त की गयी है। इनमें चमोली, पौड़ी गढ़वाल, पिथौरागढ़, बागेश्वर, अल्मोड़ा, चम्पावत, नैनीताल एवं ऊधमसिंह नगर जिले शामिल हैं। वहीं आपदा प्रबंधन सचिव डॉ रंजीत कुमार सिन्हा के निर्देश पर राज्य आपातकालीन परिचालन केंद्र की ओर इन आठ जिलों के जिलाधिकारियों को अपने जनपदों में विशेष सावधानियां सुनिश्चित करने के निर्देश जारी किये गए हैं। संबंधित जिलाधिकारियों को प्रत्येक स्तर पर तत्परता एवं सुरक्षा बनाये रखते हुए आवागमन में नियंत्रण रखने, किसी भी आपदा / दुर्घटना की स्थिति में त्वरित स्थलीय कार्यवाही करते हुए सूचनाओं का तत्काल आदान-प्रदान करने, आपदा प्रबन्धन आइआरएस प्रणाली के नामित समस्त अधिकारियों एवं विभागीय नोडल अधिकारियों को हाई अलर्ट में रहने को कहा गया है। वहीं समस्त राजस्व उपनिरीक्षकों, ग्राम विकास अधिकारियों, ग्राम पंचायत अधिकारियों को अपने क्षेत्रों में बने रहने, समस्त चौकी / थाने को भी आपदा सम्बन्धी उपकरणों एवं वायरलैस सहित हाई अलर्ट में रहने, उक्त अवधि में किसी भी अधिकारी / कर्मचारी को मोबाइल / फोन स्विच ऑफ नहीं करने, अधिकारीगणों को बरसाती, छाता, टार्च हैलमेट तथा कुछ आवश्यक उपकरण एवं सामग्री अपने वाहनों में रखने, उक्त अवधि में लोगों के फंसे होने की स्थिति पर खाद्य सामग्री व मेडिकल सुविधा की व्यवस्था करने, विद्यार्थियों की सुरक्षा के दृष्टिगत विद्यालयों में विशेष सावधानी बरतने के निर्देश दिये गये हैं। असामान्य मौसम, भारी वर्षा की चेतावनियों के दौरान उच्च हिमालयी क्षेत्रों में पर्यटकों के आवागमन की अनुमति न देने, नगर एवं कस्बाई क्षेत्रों में नालियों एवं कलवटों के अवरोधों को दूर करने, एनएच, पीडब्‍ल्‍यूडी, पीएमजीएसवाइ, एडीबी, बीआरओ, डब्‍ल्‍यूबी, सीपीडीडब्‍ल्‍यू आदि द्वारा किसी भी मोटर मार्ग के बाधित होने की दशा में उसे तत्काल खुलवाना सुनिश्चित करने, केन्द्रीय जल आयोग के लिंक http//ffs.india-water.gov.in से जलस्तर/ खतरे की स्थिति की सतत मॉनिटरिंग सुनिश्चत करने के निर्देश जारी किये गए हैं। समस्त सम्बन्धित अधिकारियों को किसी भी प्रकार की आपदा की सूचना एसईओसी/ राज्य आपदा नियंत्रण कक्ष के फोन नम्बरों 0135-2710335, 2664314, 2664315 2664316, फैक्स नं० 0135-2710334, 2664317 व टोल फ्री नं0 1070, 9058441404 एवं 8218867005 पर तत्काल देने के भी निर्देश जारी किए गए हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें