Saturday, May 25, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडदेवभूमि में फिर हुई हैवानियत की हदें पार! दरिंदों ने अपहरण कर...

देवभूमि में फिर हुई हैवानियत की हदें पार! दरिंदों ने अपहरण कर लूटी दो नाबालिग बहनों की अस्मत

उत्तराखंड देवभूमि में एक बार फिर दरिंदो ने हैवानियत सारी पार की है। जिसमे रुड़की की दो नाबालिग बहनों साथ हुई मार्मिक और भयावह घटना सामने आई है। तीन हैवानों ने पहले उनका किडनैप किया फिर उन्हें मसूरी ले गए। जहां होटल में ले जाकर तीनों आरोपियों ने दोनों बहनों की अस्मत लूटी। उसके बाद उन्हें बदहवास स्थिति में कलियर में छोड़ कर फरार हो गए लेकिन पुलिस की गिरफ्त से नहीं बच पाए। अब पुलिस ने तीनों को सलाखों के पीछे भेज दिया है।

रुड़की सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र स्थित एक गांव से नाबालिग बहनों के अपहरण मामले में पुलिस ने तीन आरोपियों को गिरफ्तार किया है. आरोपियों ने पहले दोनों बहनों का अपहरण किया फिर मसूरी ले जाकर होटल में दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया था। पुलिस ने दोनों बहनों को कलियर से बरामद कर लिया है। बताया जा रहा है कि तीनों आरोपी रुड़की सिविल अस्पताल के अस्थायी कर्मचारी रह चुके हैं। वहीं पुलिस ने तीनों आरोपियों को न्यायालय के समक्ष पेश किया। जहां से उन्हें जेल भेज दिया है.गौर हो कि बीती 16 जनवरी को रुड़की सिविल लाइन कोतवाली क्षेत्र निवासी एक ग्रामीण ने सिविल लाइन कोतवाली पुलिस को एक तहरीर दी थी। जिसमें उन्होंने बताया था कि उसकी दो नाबालिग बेटी 15 जनवरी से गायब है। काफी तलाश करने के बाद भी उनका कोई पता नहीं चला सका है। मामले की गंभीरता को देखते हुए पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर उनकी तलाश शुरू की।

वहीं मंगलवार की शाम कोतवाली पुलिस ने सूचना के आधार पर कलियर से दोनों बहनों को बदहवास हालत में बरामद किया। पुलिस ने जब उनसे पूछताछ की गई तो नाबालिग बहनों ने कोतवाली गंगनहर क्षेत्र के गुलाब नगर रामपुर गांव निवासी वसीम, कोटा मुरादनगर थाना कलियर निवासी शाहरुख और शिवपुरम आजाद नगर कोतवाली गंगनहर रुड़की निवासी सचिन के नाम बताए। मसूरी के होटल में दोनों बहनों की अस्मत लूटी, कलियर में उतारकर फरारः उन्होंने बताया कि तीनों युवक बहला-फुसलाकर उन्हें अपने साथ कार से मसूरी ले गए थे। जहां एक होटल में ले जाकर उनके साथ दुष्कर्म किया गया। उन्होंने बताया कि मंगलवार की शाम तीनों युवकों ने उन्हें कलियर में छोड़ दिया और कार लेकर फरार हो गए। पूछताछ के बाद कोतवाली पुलिस ने मंगलवार की देर शाम तीनों युवकों को रामपुर से गिरफ्तार कर लिया। सिविल लाइन कोतवाली के वरिष्ठ उपनिरीक्षक प्रदीप तोमर ने बताया कि मामले में आरोपियों से पूछताछ की जा रही है। उन्होंने बताया कि आरोपी वसीम, शाहरुख और सचिन रुड़की सिविल अस्पताल के अस्थायी कर्मचारी रह चुके हैं। फिलहाल कार की बरामदगी के प्रयास किए जा रहे हैं। जबकि नाबालिगों का मेडिकल कराया जा रहा है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें