Tuesday, June 18, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeअपराधपिता पुत्री का पवित्र रिश्ता शर्मसार! कलयुगी बाप ने अपनी ही बेटियों...

पिता पुत्री का पवित्र रिश्ता शर्मसार! कलयुगी बाप ने अपनी ही बेटियों के साथ किया दुष्कर्म

उत्तराखंड राज्य में बढ़ते क्राइम के बीच रिश्तो को शर्मसार करने वाली घटना सामने आई है यह रिश्ता एक बाप और बेटी का कहा जाता है कि पिता के लिए बेटी सर्वोपरि होती है परी होती है पर एक पिता ने ही अपनी बेटी को अपनी हवस का शिकार बना दिया। अगर पिता की हिस्ट्री की बात करें तो यह दरिंदा बाप हत्या के मामले में सात साल जेल की सजा काटकर वापस लौटे था जिसके बाद अपनी ही बेटी पर नीयत खराब करते हुए उसके साथ दुष्कर्म की घटना को अंजाम दिया है। बाप की इस हरकत पर जब मासूम बेटी ने विरोध किया तो उसे बुरी तरह पीटा भी गया। बता दें की अगले दिन पीड़िता जब पुलिस के पास पहुंची तो उसकी शिकायत पर आनन-फानन में कार्यवाही करते हुए पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर उसके खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

जानकारी के अनुसार हल्द्वानी के एक गांव में रहने वाला 40 वर्षीय आरोपी मूलरूप से नेपाल का रहने वाला है। कई साल पहले उसकी पत्नी उसे छोड़ कर चली गई थी। पत्नी अपनी एक बेटी को भी साथ ले गई थी। बताया जा रहा है कि आरोपी 2013 में हत्या के एक मामले में जेल में बंद था। 7 साल की सजा काटने के बाद 2019 में जेल से बाहर आया था। उसके जेल से छूटने से पहले उसकी पत्नी उसको छोड़ कर जा चुकी थी। एक बच्ची को वो अपने साथ ले गई जबकि उसके दो बच्चों का पालन पोषण आरोपी की दीदी कर रही थी। आरोपी की 13 और 15 साल की दो बेटियां हैं। आरोप है कि ये शख्स अपनी 15 साल की बेटी के साथ पिछले काफी दिनों से दुष्कर्म की घटना को अंजाम देता आ रहा था। उसके साथ मारपीट भी करता था। जिससे तंग आकर दोनों बहनें काठगोदाम थाने पहुंची। किशोरी ने अपने साथ हुई घटना पुलिस को बताई। जिसके बाद पुलिस ने त्वरित कार्रवाई करते हुए आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया। आरोप है कि मंगलवार रात उसने बेटी के साथ दुष्कर्म किया। जब बेटी ने विरोध किया तो उसे बुरी तरह पीटा। पुलिस ने पीड़िता के छोटी बहन की तहरीर पर आरोपी के खिलाफ गंभीर धाराओं में केस दर्ज कर लिया है। बताया जा रहा है कि दुष्कर्म का आरोपी एक हत्या का भी आरोपी है। वर्ष 2013 में हल्द्वानी कोतवाली क्षेत्र में दोस्त राजीव के साथ मिलकर इसने एक व्यक्ति की हत्या कर दी थी। वारदात को अंजाम देने के बाद दोनों ने मिलकर लाश को नहर में फेंक दिया था. इस मामले में सात साल की सजा काटने के बाद वह जमानत पर रिहा हुआ।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें