Thursday, July 18, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeउत्तराखंडकेदारनाथ के साथ बदरीनाथ में भी यात्रियों को ठहराने के लिए प्रशासन...

केदारनाथ के साथ बदरीनाथ में भी यात्रियों को ठहराने के लिए प्रशासन करेगा टेंटों की व्यवस्था

केदारनाथ धाम में ही नहीं अब बदरीनाथ धाम में भी यात्रियों के लिए टेंट की व्यवस्था की गई है। यात्रा को ब्लैक मार्केटिंग से दूर रखने के लिए भी प्रशासन ने तैयारियां तेज कर दी हैं। साथ ही बाहरी राज्यों से आने वाले कॉमर्शियल वाहनों के लिए भी गाइडलाइन जारी कर दी है। जिससे आने वाले श्रद्धालु सुरक्षित यात्रा कर सकें. यात्रा को लेकर प्रशासन द्वारा ठोस तैयारियों का दावा किया जा रहा है।

अप्रैल महीने से प्रदेश में चारधाम यात्रा का आगाज होने जा रहा है। जहां साल 2022 में बदरीनाथ धाम में 17 लाख यात्रियों ने दर्शन किये तो केदारनाथ में 15 लाख से ज्यादा यात्री पहुंचे थे। माना जा रहा है कि इस साल की यात्रा में ये आंकड़ा बढ़ जाएगा। यात्रा में आने वाले यात्रियों को ठहराने के लिए इस बार केदारनाथ के साथ बदरीनाथ में भी 2 हजार टेंट कॉलोनी बसाई जा रही है. इसका कारण मास्टर प्लान का कार्य है। कई होटल, धर्मशालाएं अभी तैयार नहीं हो पाई हैं। साथ ही जोशीमठ में भी लगातार दरारें बढ़ रही हैं, जहां पर प्रशासन का ध्यान केन्द्रित है। वहीं यात्रियों के ठहरने के लिए टेंट की व्यवस्था की गई है। जिससे यात्रियों को रहने की सुविधा और स्थानीय लोगों को रोजगार मिल सके।

वहीं इस बार की यात्रा में ब्लैक मार्केटिंग न हो जिसके लिए प्रशासन ने हर जिले में एक स्पेशल टीम का गठन किया है। जिसमें जिला प्रशासन खाद्य आपूर्ति, पुलिस के अधिकारी रहेंगे जो यात्रा मार्गों में रेट लिस्ट के साथ ब्लैक मार्केटिंग पर नजर रखेंगे। इसी के साथ दर्शन करने को लेकर भी यात्रियों के लिए टोकन जारी होंगे जिससे उनको पता लग जाएगा कि उनका नंबर कितनी देर में आएगा। चारधाम यात्रा पर जाने वाले वाहन चालकों और यात्रियों की सुरक्षा के लिए परिवहन विभाग ने दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं। वाहन चालकों यात्रा के दौरान म्यूजिक सिस्टम का संचालन नहीं करने की सलाह दी गई है। वहीं चप्पल पहन कर वाहन नहीं चलाने की अपील की गई है। यह दिशा निर्देश सभी चेकपोस्ट, बस अड्डे और स्टेशन पर चस्पा कर दिए जाएंगे। यात्रा के दौरान यात्रियों को किसी भी प्रकार की समस्या का समाना न करना पड़े जिसके लिए प्रशासन तैयारियों में जुटा है। चारधाम यात्रा मार्ग पर कॉमर्शियल वाहनों को इस बार ऑनलाइन ट्रेस किया जा सकेगा। वाहनों के नंबरों पर उसका ग्रीन कार्ड और ट्रिप कार्ड का डाटा दर्ज रहेगा साथ ही परिवहन विभाग चारधाम यात्रा रूट के पांच चेक पोस्ट को हाईटेक बनाने जा रहा है. इससे चेक पोस्टों पर वाहनों को घंटों तक नहीं रुकना पड़ेगा। वहीं आरटीओ प्रवर्तन का कहना है कि चारधाम यात्रा के दौरान सभी चेक पोस्ट पर अतिरिक्त फोर्स लगाई जाएगी। साथ ही चारधाम यात्रा रूट पर पांच स्थान भद्रकाली, ब्रह्मपुरी, डामटा, सोनप्रयाग और कुठाल गेट चेक पोस्ट बनाई गई हैं।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें