Tuesday, April 23, 2024
No menu items!
Google search engine
Homeअपराधउत्तराखंड एसटीएफ ने फरार इनामी बदमाश को किया गिरफ़्तार

उत्तराखंड एसटीएफ ने फरार इनामी बदमाश को किया गिरफ़्तार

उत्तराखंड एसटीएफ की टीम ने एक लाख का इनामी बदमाश को देहरादून के ग्राम कुंजा विकासनगर से गिरफ्तार किया है। आरोपी हरिद्वार चीता पुलिस के दो जवानों को गोली मारकर फरार था। हरिद्वार के थाना लक्सर क्षेत्र अंतर्गत एक सुनार को लूटने के प्रयास दौरान चीता पुलिस से हुई मुठभेड़ में पकड़े गए इनामी अपराधी ने कई राउंड फायर किए थे, जिसमें चीता पुलिस के दो जवान हो घायल गए थे। आरोपी के खिलाफ दर्जन से अधिक मुकदमे पश्चिमी उत्तर प्रदेश के थानों में दर्ज है।

16 अक्टूबर 2022 को जनपद हरिद्वार के क्षेत्र थाना लक्सर की चीता पुलिस को सूचना मिली थी कि कुछ बदमाश लक्सर कस्बे के एक सुनार को लूटने के इरादे से आए हैं। बदमाश संदिग्ध अवस्था में दुर्गा मंदिर ओवर ब्रिज लक्सर के नीचे खड़े हैं। सूचना पर चीता पुलिस के दो जवान कॉन्स्टेबल सुरेंद्र शर्मा और कॉन्स्टेबल पंचम प्रकाश ब्रिज के नीचे पहुंचे और बाइक पर सवार तीन संदिग्ध व्यक्तियों को रोककर पूछताछ करनी चाही लेकिन तभी तीनों पुलिसकर्मियों पर फायर करते हुए भागने लगे। इस बीच दोनों तरफ से मुठभेड़ हुई। मुठभेड़ में कॉन्स्टेबल सुरेंद्र शर्मा ने एक बदमाश को दबोच लिया। कॉन्स्टेबल पंचम प्रकाश ने भी उसी बदमाश को कब्जे में लिया। लेकिन उसके अन्य साथियों द्वारा फिर चीता पुलिस पर कई राउंड फायर किए गए। इस फायरिंग में कॉन्स्टेबल पंचम प्रकाश के पैर पर गोली लग गई और बदमाश दोनों पुलिस कर्मियों के हाथ से छूटकर भागने लगा। इस बीच दूसरी तरफ से थाना लक्सर के दो और कॉन्स्टेबल सतेंद्र और राजेंद्र भी चीता पुलिस के रूप में मौके पर पहुंच गए। अब सतेंद्र और राजेंद्र घायल पंचम प्रकाश के साथ बाइक से तीनों बदमाशों का पीछा करने लगे। इस बीच एक बार फिर बदमाशों ने पुलिसकर्मियों पर जान से मारने की नीयत से कई राउंड फायर किए. इस फायरिंग में एक गोली कॉन्स्टेबल राजेंद्र सिंह के पैर पर लग गई और तीनों ही बदमाश पप्पू नर्सिंग होम के पास से दो अन्य साथी बदमाशों की मदद से भागने में कामयाब हो गए। एसटीएफ के मुताबिक इस घटना में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के 5 बदमाशों (शबिर, अताउल खान, नौशाद, जावेद और फुरकान) का नाम सामने आया। मंगलवार को एसटीएफ एसएसपी आयुष अग्रवाल ने बताया कि घटना में बाइक और असलहा उपलब्ध कराने वाले दो अन्य व्यक्तियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। साथ ही हरिद्वार पुलिस द्वारा घटना में शामिल अपराधी नौशाद, अताउल खान और शबिर को गिरफ्तार किया जा चुका था। मुख्य अपराधी फुरकान और जावेद घटना के बाद से लगातार फरार चल रहे थे। एसटीएफ एसएसपी ने बताया कि अभी हाल ही में घटना में फरार एक लाख के इनामी बदमाश फुरकान को एसटीएफ द्वारा बिहार से गिरफ्तार किया गया। एसटीएफ एसएसपी के मुताबिक अब इस घटना में सिर्फ शातिर बदमाश जावेद पुलिस की गिरफ्त से दूर था. जावेद लगातार अपनी लोकेशन बदल रहा था. जावेद की गिरफ्तारी के लिए पुलिस मुख्यालय से 1 लाख रुपये का ईनाम भी घोषित किया गया था. उत्तराखंड एसटीएफ द्वारा आरोपी की गिरफ्तारी के लिए टीम का गठन किया गया। टीम द्वारा जावेद का फैमिली चार्ट बनाकर प्रत्येक सदस्यों की निगरानी की गई. इस दौरान जानकारी मिली कि जावेद का एक भाई विकासनगर कालसी में आम के बगीचे में काम कर रहा है. पुलिस ने जावेद के भाई पर भी नजर रखनी शुरू कर दी। इस दौरान जानकारी मिली कि जावेद का ससुराल कुंजा में है।

सम्बंधित खबरें
- Advertisment -spot_imgspot_imgspot_imgspot_img

ताजा खबरें